اردو | हिन्दी | English
19 Views
व्यंजन

इस जूस में छिपा है डेंगू और चिकनगुनिया का इलाज

papaya-leaves-juice-pakwangali-520_091217104112
Written by Taasir Newspaper

मानसून में मच्छरों का आतंक बहुत बढ़ जाता है और इसके चलते डेंगू और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है. डेंगू और चिकनगुनिया एक ऐसा बुखार है जो शरीर को पूरी तरह से तोड़कर रख देता है और जोडों में बहुत दर्द होता है.
(महिलाओं के लिए फायदेमंद है कच्चा पपीता)

एक्सपर्ट के अनुसार डेंगू और चिकनगुनिया में प्लेटलेट्स कम हो जाते हैं और अगर सावधानी न बरती जाए तो ये जानलेवा भी हो सकता है. पपीते का पत्ता डेंगू और चिकनगुनिया का रामबाण इलाज है. पपीते के पत्तों में पाया जाने वाला एसिटोजिनिन डेंगू और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों को रोकने में मदद करता है. आप इसका जूस बनाकर पी सकते हैं.
(एलर्जी को जड़ से खत्म कर देंगी ये चीजें)

जानें इसका जूस बनाने की विधि. 
– पपीते के पत्तों का जूस बनाने के लिए सबसे पहले सभी पत्तियों को अच्छे से धोकर छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें.
– मीडियम आंच में एक पैन में पानी और पत्तियों को डालकर उबालें. (तो इसलिए जरूरी है बादाम खाना)
– जब तक पानी आधा न रह जाए तब तक ढककर पांच मिनट तक उबालते रहें और आंच बंद कर दें.
– अब पत्तों को अच्छे से पीसकर एक बर्तन में रख लें. (इस तरह से खाएंगे अखरोट तो मिलेगा फायदा)
– तैयार है पपीते के पत्तों का जूस.

पपीते के पत्तों के फायदे:
– डेंगू और चिकनगुनिया में दवाइयों के साथ-साथ पपीते के पत्ते का जूस किसी वरदान से कम नहीं है.
– पपीते का पत्ता रोग-प्रतिरोधक क्षमता यानि इम्‍यूनिटी पावर को बढ़ाता है. (तो इसलिए जरूरी है अंडे का योक खाना)
– तेजी से गिरते प्लेटलेट्स को बढ़ाने में और खून के थक्के जमा होने से रोकने में बेहद मददगार है पपीते के पत्ते का जूस.
(इन 6 बीमारियों के लिए रामबाण है धनिया)
– पपीते के पत्तों में विटामिन A, B, C, कैल्शियम, प्रोटीन और आयरन भरपूर मात्रा में होता है.

About the author

Taasir Newspaper