اردو | हिन्दी | English
18 Views
खेल

INDvsAUS: विराट-धवन का कमाल, जब टीम इंडिया ने 4 विकेट खोकर ही हासिल कर लिया था 351 का लक्ष्‍य

virat-kohli_650x400_41504716156
Written by Taasir Newspaper

खास बातें

  1. नागपुर में अक्‍टूबर 2013 में हुआ था यह वनडे मुकाबला
  2. मैच में ऑस्‍ट्रेलिया के जॉर्ज बैली, वाटसन ने लगाए थे शतक
  3. भारत ने शिखर, कोहली के शतक से दिया था इसका जवाब

नई दिल्‍ली: भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच अब तक कई ऐसे मुकाबले हुए हैं जिनकी याद क्रिकेटप्रेमियों के जेहन में अब तक ताजा है. इस तरह के ही एक मुकाबले में भारतीय टीम ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वनडे मुकाबले में 351 रन का विशाल लक्ष्‍य बेहद आसानी से हासिल कर लिया था. टीम इंडिया ने इस मैच में छह विकेट के अंतर से जीत हासिल की थी. ऑस्‍ट्रेलिया टीम के लिए टीम इंडिया की यह जीत बड़ा झटका देने वाली साबित हुई थी और एक बार से उसे यकीन ही नहीं हुआ था कि 350 रन का विशाल स्‍कोर बनाने के बावजूद उसे हार का सामना करना पड़ा है. मैच में टीम इंडिया ने बेहद प्रोफेशनल तरीके से ऑस्‍ट्रेलिया के स्‍कोर को चेज किया था. टीम के प्रारंभिक तीन बल्‍लेबाजों ने बड़े स्‍कोर किए थे. यही कारण था कि सात रन प्रति ओवर के औसत से रन बनाने में भी भारतीय टीम कामयाब रही थी.

लहंगे में अनुष्‍का शर्मा और शेरवानी में विराट कोहली… यह हो क्‍या रहा है?

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच यह रोमांचक मुकाबला 30 अक्‍टूबर 2013 को नागपुर में हुआ था. मैच में पहले बल्‍लेबाजी करते हुए ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों की जमकर खबर ली. शेन वॉटसन ने 102 रन बनाए जबकि कप्‍तान जॉर्ज बैली ने 156 रन बना डाले थे. वाटसन की पारी में 13 चौके और तीन छक्‍के शामिल थे जबकि बैली ने अपनी पारी में 13 चौके और छह छक्‍के जमाए थे. निर्धारित 50 ओवर में ऑस्‍ट्रेलिया के 350 के बड़े स्‍कोर पर पहुंचने के बाद भारतीय प्रशंसकों की जीत की उम्‍मीदें लगभग खत्‍म हो गई थीं. भारत के लिए भुवनेश्‍वर कुमार (आठ ओवर में 42 रन देकर एक विकेट) के अलावा अन्‍य सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए थे.

:वनडे सीरीज से पहले कप्‍तान विराट कोहली को सता रही इस बात की चिंता

जवाब में भारतीय बल्‍लेबाजों ने ऐसा प्रदर्शन किया जिसकी उम्‍मीद शायद किसी को भी नहीं थी रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी ने पारी की शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए ही 178 रन की पार्टनरशिप कर डाली थी. इन दोनों की बल्‍लेबाजी के आगे ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों के हौसले पस्‍त पड़ गए थे. रोहित शर्मा 79 रन (सात चौके, तीन छक्‍के) के रूप में पहला विकेट 178 के स्‍कोर पर गिरा था. शिखर धवन ने 100 रन (11 चौके) बनाए. ऑस्‍ट्रेलिया की टीम रोहित और धवन को आउट करने की खुशी मना भी नहीं पाई थी कि विराट ने ताबड़तोड़ बैटिंग करके ऑस्‍ट्रेलिया को पूरी तरह बैकफुट पर ला दिया. वास्‍तव में विराट की पारी में ही टीम इंडिया की जीत का मार्ग प्रशस्‍त किया.

इंटरनेशनल क्रिकेट में विराट कोहली के 15 हजार रन पूरे
धवन के आउट होने के बाद विराट ने रन बनाने की जिम्‍मेदारी पूरी तरह अपने कंधों पर ले ली. उन्‍होंने महज 66 गेंदों पर 18 चौकों और एक छक्‍के की मदद से नाबाद 15 रन बनाए और तत्‍कालीन कप्‍तान एमएस धोनी (23 गेंद पर 25 रन) के साथ मिलकर टीम को जीत तक पहुंचा दिया. भारतीय टीम ने मैच के दौरान रोहित शर्मा, शिखर धवन के अलावा सुरेश रैना (16) और युवराज सिंह (0) के विकेट गंवाए. 50वें ओवर की तीसरे गेंद पर चार विकेट पर 351 रन बनाते हुए टीम इंडिया ने मैच में ऑस्‍ट्रेलिया को हार के लिए मजबूर कर दिया था. टीम इंडिया की यह जीत ऐसी थी जो लंबे अरसे तक लोगों को याद रहेगी. विराट और शिखर धवन इस जीत के हीरो साबित हुए थे.

About the author

Taasir Newspaper