اردو | हिन्दी | English
6 Views
खेल

फिक्सिंग के बारे में पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज वकार यूनुस ने दिया यह बड़ा बयान

waqar-younis_650x400_61510627343
Written by Taasir Newspaper

खास बातें

  1. कहा, क्रिकेट में अभी भी मौजूद है फिक्सिंग की बुराई
  2. इस दूर करने के लिए सामूहिक प्रयास की जरूरत
  3. स्‍पॉट फिक्सिंग के कारण पाक क्रिकेट की छवि खराब हुई

पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज और कप्‍तान वकार यूनुस ने पाकिस्‍तान सुपर लीग (PSL)2018 से पहले फिक्सिंग को लेकर बड़ा बयान दिया है. वकार के अनुसार, क्रिकेट में फिक्सिंग की बुराई अभी भी मौजूद है और इसे दूर करने के लिए सामूहिक प्रयास  की जरूरत है. पाकिस्‍तान टीम के कोच का पद भी संभाल चुके इस तेज गेंदबाज ने कहा कि स्‍पॉट फिक्सिंग ने पाकिस्‍तान क्रिकेट के छवि को बुरी तरह से प्रभावित किया है. इस्‍लामाबाद यूनाइटेड की एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान उन्‍होंने कहा कि फिक्सिंग की जड़ें बेहद गहरी हैं और यह अभी भी सभी स्‍तर के क्रिकेट में किसी न किसी रूप में मौजूद है. क्रिकेट में आ चुकी इस बुराई से निजात पाने के लिए सामूहिक रूप से ठोस कदम उठाने की जरूरत है.

वीरेंद्र सहवाग ने खोला राज, अगर ऐसा होता तो मैं होता भारतीय टीम का कोच

पीएसएल के तीसरे संस्‍करण में वकार, इस्‍लामाबाद यूनाइटेड की टीम के साथ डायरेक्‍टर के रूप में जुड़े हुए हैं. उन्‍होंने कहा कि स्‍पॉट फिक्सिंग को लेकर वे युवा क्रिकेटरों पर लगातार निगरानी रखते हैं और उन्‍हें इस बुराई से दूर रखने का प्रयास करते हैं. उन्‍होंने कहा कि मेरा प्रमुख काम खिलाड़ि‍यों को मैदान और मैदान के बाहर इस बारे में मार्गदर्शन देना है कि इस बुराई से वे कैसे बचें. फिक्सिंग की बुराई इन खिलाड़ि‍यों के करियर को पटरी से उतार सकती है. गौरतलब है कि इस्‍लामाबाद यूनाइटेड टीम वर्ष 2016 में पीएसएल के प्रारंभिक संस्‍करण में चैंपियन रही थी. वर्ष 2017 में पेशावर जाल्‍मी ने विजेता बनने का गौरव हासिल किया था. PSL का तीसरा सीजन 23 फरवरी से प्रारंभ होगा और दुबई उद्घाटन समारोह की मेजबानी करेगा. वकार को उम्‍मीद हैं कि क्रिकेट लीग से पाकिस्‍तान में इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी में मदद मिलेगी और बड़ी संख्‍या में विदेशी खिलाड़ी इस टूर्नामेंट के दौरान एक्‍शन में दिखाई देंगे.

: वकार बोले, मुंह बंद रखें शाहिद अफरीदी

पाकिस्‍तान ने इस वर्ष सितंबर में वर्ल्‍ड इलेवन के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज की मेजबानी की थी. इसके बाद टीम ने श्रीलंका के खिलाफ एक टी20 मैच की मेजबानी की थी. वकार ने कहा, कि इन मैचों के जरिये पाकिस्‍तान में सुरक्षा को लेकर बनी धारणा को दूर करने में एक हद तक मदद मिली है. हम विदेशी खिलाड़ि‍यों को एक हद तक इस बारे में आश्‍वस्‍त करने में सफल रहे हैं कि यहां आने पर सुरक्षा को लेकर चिंता की जरूरत नहीं है.

About the author

Taasir Newspaper