آج کا شماره | اردو | हिन्दी | English
17 Views
बॉलीवुड

मुश्किल में Padmavat: समझौते के लिए तैयार नहीं करणी सेना, दी ‘जनता कर्फ्यू’ की धमकी

padmavati-new-youtube_650x400_61511260820
Written by Taasir Newspaper

खास बातें
पद्मावत पर किसी समझौते की संभावना नहीं : करणी सेना
रिलीज पर करणी सेना ने किया ‘जनता कर्फ्यू’ का आह्वान
25 जनवरी को रिलीज होगी दीपिका-रणवीर की ‘पद्मावत’

नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर स्टारर फिल्म ‘पद्मावत’ को भले ही सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिल गई है. लेकिन फिल्म की मुश्किलें हैं कि खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. करणी सेना ने बुधवार को कहा कि वह ‘पद्मावत’ के निर्माताओं के साथ किसी तरह का समझौता नहीं करेगी. संगठन ने संजय लीला भंसाली की फिल्म जब कभी भी रिलीज हो, उस वक्त ‘जनता कर्फ्यू’ का आह्वान किया है. करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कल्वी ने मीडिया से कहा, “हमें उस समय एक छोटे से स्पष्टीकरण की जरूरत थी कि पद्मावती व अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई दृश्य नहीं है. हम इससे ही संतुष्ट हो जाएंगे, लेकिन अब हम किसी तरह का समझौता नहीं करेंगे.”

राजपूत संगठन ने पहले अभिनेता रणवीर सिंह के जुलाई 2016 के एक बयान को लेकर चिंता जताई थी, जिसमें रणवीर सिंह से कथित तौर पर फिल्म में खलनायक की भूमिका निभाए जाने के बारे में पूछे जाने पर हल्के-फुल्के अंदाज में कहा था कि यदि उन्हें दीपिका के साथ दो अंतरंग दृश्य करने का मौका मिलता है तो वह खलनायक से नीचे जाकर भी कोई भूमिका निभाएंगे.

इस वजह से फिल्म में खिलजी और रानी पद्मावती के बीच किसी तरह के अंतरंग दृश्य होने का सवाल पैदा हुआ. इसके बाद करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने जयपुर में फिल्म के सेट पर संजय लीला भंसाली पर हमला किया व कोल्हापुर में एक अन्य सेट पर तोड़फोड़ की गई.

भंसाली व वायाकॉम 18 पिक्चर्स को फिल्म को रिलीज करने में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. भंसाली की फिल्म 16वीं सदी के भारतीय सूफी कवि मलिक मोहम्मद जयसी के महाकाव्य पद्मावत पर आधारित है. फिल्म में रणवीर सिंह, शाहिद कपूर और दीपिका पादुकोण ने प्रमुख भूमिकाएं निभाई हैं. वसुंधरा राजे बोलीं- राजस्थान में नहीं रिलीज होगी फिल्म ‘पद्मावत’, 10 खास बातें

सेंसर बोर्ड ने तीन सदस्यीय सलाहकार समिति से सलाह के बाद फिल्म को यूए सर्टिफिकेट के साथ रिलीज करने पर सहमति दे दी है. कल्वी ने सवाल उठाया कि फिल्म तीन ही लोगों को क्यों दिखाई गई जबकि समिति में नौ लोगों के होने की चर्चा हो रही थी. उन्होंने कहा कि राजस्थान व हिमाचल प्रदेश सरकार फिल्म की रिलीज के खिलाफ हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ‘इतिहास से छेड़छाड़ करने वाली इस फिल्म’ की रिलीज के मामले में दूसरे राज्य भी राजस्थान व हिमाचल का अनुसरण करेंगे.

बता दें, ‘पद्मावत’ 25 जनवरी को सिनेमाघरों में रिलीज होगी. बॉक्स ऑफिस पर इसकी टक्कर अक्षय कुमार स्टारर फिल्म ‘पैडमैन’ से होने वाली है.

About the author

Taasir Newspaper