खेल

विराट कोहली ही नहीं महिलाओं ने भी नहीं छोड़ा साउथ अफ्रीका को, ऐसा रहा मैच का रोमांच

womens-team-india_650x400_81518577961
Written by Taasir Newspaper

खास बातें

  1. भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने टी-20 में अफ्रीका को सात विकेट से हराया.
  2. मिताली राज ने नाबाद 54 रनों की पारी खेली.
  3. दक्षिण अफ्रीका द्वारा रखे गए 165 रनों के लक्ष्य को आसानी से प्राप्त किया.

नई दिल्ली: टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को पांचवें मुकाबले में 73 रनों से हराकर सीरीज अपने नाम की. 26 साल बाद टीम इंडिया ने इतिहास रज दिया है. वहीं भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने साउथ अफ्रीका को पहले टी-20 में हरा दिया. भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने मंगलवार को सेनवेस पार्क पर खेले गए पहले टी-20 मैच में दक्षिण अफ्रीका को सात विकेट से हरा दिया. भारतीय महिलाओं ने दक्षिण अफ्रीका द्वारा रखे गए 165 रनों के लक्ष्य को कप्तान मिताली राज के नाबाद 54 रनों की पारी के दम पर 18.5 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया.

भारत के लिए इस लक्ष्य तक पहुंचना मुश्किल नहीं रहा क्योंकि हरमनप्रीत कौर (0) के अलावा मेहमान टीम के सभी बल्लेबाजों ने बल्ले से अपना योगदान दिया. स्मृति मंधाना (28) ने पहले विकेट के लिए कप्तान के साथ 47 रनों की साझेदारी की. मंधाना को डेनियल्स ने अपना शिकार बनाया। अगली ही गेंद पर हरमनप्रीत रन आउट हो गईं.

लेकिन कप्तान ने टीम को बिखरने नहीं दिया और जेमीमाह रोड्रिग्वेज (37) के साथ मिलकर टीम को जीत की तरफ आगे बढ़ाया. रोड्रिग्वेज 116 के कुल स्कोर पर आउट हुई. वेदा कृष्णामूर्ति (नाबाद 37) ने कप्तान के साथ मिलकर भारत की जीत दिलाई. मिताली ने अपनी नाबाद पारी में 48 गेंदों का सामना करते हुए छह चौके और एक छक्का लगाया.

इससे पहले, दक्षिण अफ्रीका को भारतीय गेंदबाजों ने बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया. मेजबान टीम के लिए डेन वान निएर्केक ने सबसे ज्यादा 38 रन बनाए. उन्होंने लिजेली ली (19) के साथ पहले विकेट के लिए 26 रन जोड़े. शिखा पांडे ने ली को आउट किया. सुने लुस ने 18 रनों का योगदान दिया. मिग्नोन डु प्रीज ने 31 रनों की पारी खेली. नाडिने डे क्लार्क ने 23 और चोले ट्रयोन ने 32 रनों की नाबाद पारी खेलते हुए मेजबान टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया.

About the author

Taasir Newspaper