खेल

Nidahas Trophy 2018: श्रीलंका से हार का बदला लेने उतरेगी भारतीय टीम, इन खिलाड़ियों पर होगी नजर

nidahas-trophy-2018_650x400_51520830666
Written by Taasir Newspaper

खास बातें
श्रीलंका से हार का बदला लेने उतरेगी भारतीय टीम.
सीरीज के पहले मैच में श्रीलंका ने टीम इंडिया को हराया था.
भारतीय गेंदबाजों पर होगा दारोमदार.
नई दिल्ली: निदास ट्रॉफी टूर्नामेंट में खेले गए अपने पहले मैच में श्रीलंका से मिली हार का बदला लेने के लिए भारतीय टीम पूरी तरह से तैयार है. दोनों टीमें एक बार फिर सोमवार को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में आमने-सामने होंगी और इस बार भारतीय टीम मैच की बाजी अपने पाले में करने की हर कोशिश करेगी. भारत का ध्यान श्रीलंका के खिलाफ जीत के लिए अपनी बल्लेबाजी पर होगा. अपनी कमजोर बल्लेबाजी के कारण ही उसे पहले मैच में मेजबान टीम से हार मिली थी. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम शिखर धवन (90) की शानदार पारी के दम पर ही 174 रनों का स्कोर बना पाई थी. इस लक्ष्य को श्रीलंका ने कुसल परेरा (66) की अर्धशतकीय पारी और उपुल थारंगा की ओर से दिए गए अहम 22 रनों के योगदान के दम पर हासिल कर लिया था.

भारत से मुकाबले से पहले श्रीलंका को बड़ा झटका, कप्तान दिनेश चंडीमल 2 मैचों के लिए निलंबित

धवन के साथ-साथ कप्तान रोहित शर्मा, सुरेश रैना, मनीष पांडे और ऋषभ पंत को भी मजबूत स्कोर खड़ा करने के लिए रन बनाने होंगे. भारतीय टीम ने बांग्लादेश के खिलाफ खेला गया अपना दूसरा मैच जीता. इस मैच में अपनी अच्छी गेंदबाजी के दम पर भारत ने बांग्लादेश की पारी को 139 रनों पर ही समेट दिया और इसी कारण भारत को इस लक्ष्य को हासिल करने में अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा.

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ अनुष्का शर्मा का KISS, 12 घंटे में मिले इतने लाइक्स

श्रीलंका से हार का बदला लेने के लिए भारत को अपनी गेंदबाजी को भी मजबूत करना होगा. टीम के पास गेंदबाज जयदेव उनादकट, युजवेंद्र चहल, शार्दूल ठाकुर, विजय शंकर और वाशिंगटन सुंदर हैं. मेजबान टीम की बात की जाए, तो भारत के खिलाफ पहले मैच में उसने अच्छा प्रदर्शन किया था. हालांकि, बांग्लादेश के खिलाफ शनिवार को खेले गए दूसरे मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा.

श्रीलंका की बल्लेबाजी अच्छी रही है। उसके पास कुशाल मेंडिस और कुशाल परेरा जैसे खिलाड़ी हैं, जिनकी मदद से श्रीलंका ने बांग्लादेश के खिलाफ 214 रनों का स्कोर खड़ा किया था. इसमें उपुल थारंगा ने भी अहम योगदान दिया था. लेकिन, इस विशाल लक्ष्य का बचाव श्रीलंकाई गेंदबाज नहीं कर सके और बांग्लादेश ने रोमांचक जीत हासिल की. ऐसे में श्रीलंका को अपनी गेंदबाजी पर मेहनत करने की जरूरत है। दुश्मंथा चमीरा, थिसारा परेरा को नुवान प्रदीप के साथ अधिक मेहनत करनी होगी।

अब विनोद कांबली इस टूर्नामेंट में मेंटोर की भूमिका निभाएंगे

टीमें :
भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन (उप-कप्तान), लोकेश राहुल, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), दीपक हुड्डा, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, विजय शंकर, शार्दूल ठाकुर, जयदेव उनादकट, मोहम्मद सिराज और ऋषभ पंत (विकेटकीपर)।

श्रीलंका : दिनेश चांडीमल (कप्तान), कुशाल मेंडिस (विकेटकीपर), उपुल थारंगा, कुशाल परेरा (विकेटकीपर), अकीला धनंजय, धनंजय डी सिल्वा, दानुश्का गुनाथीलका, जीवन मेंडिस, थिसारा परेरा, दासुन शनाका, इसुरु उदाना, सुरंगा लकमल, अमीला अपोंसो, दुश्मंथा चमीरा, नुवान प्रदीप।

About the author

Taasir Newspaper