अजमेर में डिवाइडर से टकराई कार बनी आग का गोला, तीन दोस्त जिंदा जले

अजमेर, 17 दिसंबर 

राजस्थान के अजमेर शहर में लोहागल रोड पर पेट्रोल पंप के पास शनिवार रात करीब 11ः30 बजे तेज रफ्तार कार डिवाइडर से टकराने के बाद आग का गोला बन गई। हादसे में तीन दोस्तों की जिंदा जलने से मौत हो गई। दो अन्य गंभीर रूप से झुलस गए।

क्रिश्चियनगंज थाना प्रभारी रविंद्रसिंह खींची ने बताया कि हादसे में चौरसियावास निवासी सोहेल खान, वैशाली नगर निवासी जय सांखला और कबीर नगर निवासी शक्ति सिंह की मौत हुई है। कबीर सिंह और जय सांखला कार में ही जिंदा जल गए, जबकि सोहेल खान ने हॉस्पिटल ले जाते समय दम तोड़ा। लोहाखान निवासी कृष्णा मुरारी और गुर्जर धरती निवासी उमेश कुमार गंभीर झुलस गए। उमेश को जयपुर रेफर किया गया है।

बताया गया है कि कार सवार जेएलएन हॉस्पिटल का वार्ड ब्वाय प्रतापनगर निवासी कृष्णा दोस्त उमेश और तीन अन्य के साथ पुष्कर गया था। लौटते समय अजमेर में यह हादसा हुआ। कार लहराते हुए डिवाइडर से जा टकराई। स्पीड इतनी थी कि कार उल्टी दिशा में घूम गई और उसमें आग लग गई।

पुष्कर बाइपास से आ रहे युवक श्यामसिंह राठौड़ ने सबसे पहले यह मंजर देखा। इसके बाद उसने शोर मचाया। तब नजदीक के रेस्टोरेंट में काम करने वाले दो भाई शंभूसिंह चौहान और दीपक चौहान पहुंचे। उन्होंने कार के शीशे तोड़कर तीन लोगों को निकाला। इस बीच कार का टायर फट गया। इससे दोनों भाई घबराकर दूर भाग गए। वह दो लोगों को कार से नहीं निकाल पाए। झुलसे तीनों दोस्तों को श्याम सिंह अपने दोस्त की कार से जेएलएन अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टरों ने एक को मृत घोषित कर दिया। पुलिस के अनुसार कार में गैस किट लगा हुआ था। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है आग गैस किट की वजह से लगी या शॉर्ट सर्किट से।