ममता की सख्ती के बाद हावड़ा कार्निवल रंगदारी मामले में दो गिरफ्तार

कोलकाता, 29 दिसंबर

हावड़ा में क्रिसमस कार्निवल बंद करवाने को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कड़े रुख के बाद आखिरकार दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन्हें गुरुवार रात पुलिस ने गिरफ्तार किया है। शुक्रवार को हावड़ा पुलिस कमिश्नरेट से इस बारे में जानकारी दी गई है। हंगामा और उपद्रव करने के आरोप में हावड़ा के जगछा थाना पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगों की पहचान राज जालान और आकाश दत्ता के रूप में की गई है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, कई अन्य लोगों पर भी उपद्रव करने का आरोप है। उनकी तलाश की जा रही है।

कार्निवल में अवैध पार्किंग शुल्क के आरोप से बुधवार रात हंगामा हुआ था। जब हावड़ा नगरनिगम के चेयरपर्सन सुजॉय चक्रवर्ती के निजी सहायक सौरभ दत्ता मामले को सुलझाने पहुंचे तो शिवपुर के तृणमूल विधायक और राज्य के मंत्री मनोज तिवारी के 40-50 सहयोगियों ने कथित तौर पर उनकी पिटाई कर दी। बाद में जब चेयरपर्सन प्रेस कॉन्फ्रेंस करने गए तो विधायक के समर्थक जबरन अंदर घुस आए और बैठक में खलल डाला। इसके बाद चेयरपर्सन ने सुरक्षा कारणों से कार्निवल को बंद करा दिया। पूरी घटना मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कानों तक पहुंची। गुरुवार को डुमुरजला हेलीपैड से चकला के लिए रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री ने कार्निवल रद्द होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा, ””मैं ऐसी घटनाओं का समर्थन नहीं करती। यह बिल्कुल भी सही नहीं है। पुलिस कानूनी कार्रवाई करेगी।”” मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने मंत्री अरूप विश्वास को कार्निवल को फिर से शुरू करने के लिए सभी दलों के साथ बैठक करने का निर्देश दिया है। इस आदेश के बाद हावड़ा सिटी पुलिस के अधिकारी बड़ी संख्या में पुलिस बल और रैफ के साथ कार्निवल स्थल पर पहुंचे।

इसके बाद दोपहर करीब साढ़े तीन बजे मंत्री अरूप विश्वास वहां आये। वहीं, मनोज भी काफी फॉलोअर्स के साथ नजर आए। कार्यक्रम स्थल में प्रवेश करते ही विधायक की पहले चेयरपर्सन से तीखी नोकझोंक हुई। इसके बाद जब अरूप विश्वास वहां पहुंचे तो उनका स्वागत करते समय मनोज ने कथित तौर पर चेयरपर्सन को धक्का दे दिया।

हालांकि, अरूप की मध्यस्थता से विवाद अस्थायी रूप से सुलझ गया। खेल मंत्री ने कहा कि पुलिस उस पार्किंग एरिया को देखेगी जहां से शोर शुरू हुआ था। अब इस मामले में गिरफ्तारी हुई है।