देश

24 साल बाद लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय मैच, जानिए ‘भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम’ से जुड़ी 10 बातें

stidium
Written by Taasir Newspaper

Taasir Urdu News Network | Uploaded on 06-November-2018

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम’ (Bharat Ratna Atal Bihari Vajpayee Ekana Cricket Stadium) का उद्घाटन कर दिया है. 24 साल के बाद अब लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय मैच खेला जाएगा. इस स्टेडियम में 9 पिच हैं. 50 हजार दर्शक लखनऊ के इस स्टेडियम (Lucknow Stadium) में मैच का आनंद उठा सकते हैं. लखनऊ के स्टेडियम में आज इंडिया और वेस्ट इंडीज के बीच मैच खेला जाएगा. इकाना स्टेडियम 71 एकड़ में फैला है. इस स्टेडियम में 1 हजार कार और पांच हजार टू-वीलर पार्किंग की व्यव्सथा है. आपको बता दें कि सोमवार को यूपी के राज्यपाल राम नाईक की मंजूरी के बाद इकाना स्टेडियम (Ekana International Cricket Stadium Lucknow) का नाम बदलकर ‘भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम’ कर दिया गया.

‘भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम’ से 10 जुड़ी बातें

1. इकाना स्टेडियम 71 एकड़ में फैला है. इस स्टेडियम में 50 हजार दर्शक मैच का मजा उठा सकते हैं.

2. इकाना स्टेडियम को स्टेडियम 530 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया गया है.

3. स्टेडियम के मैदान पर कुल 9 पिच हैं, जिनमें से 5 महाराष्ट्र की लाल मिट्टी से बनाई गई है, जबकि बाकी 4 पिच को बनाने में कटक की काली मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है.

4.  ‘भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम’ में चार वीआएपी लाउंज हैं. पहले में 232, दूसरे में 228, तीसरे में 144 और चौथे लाउंज में 120 सीटे हैं.

5. टी 20 मैच का सबसे किफायती टिकट (Ekana Stadium Lucknow Ticket) 1500 रुपए का है, हालांकि स्टूडेंट्स के लिए सबसे सस्ता टिकट 450 रुपए का है.

6. स्टेडियम में 6 फ्लड लाइट्स लगाई गई हैं, फ्लड लाइट में जड़े 560 बल्ब मैदान में रोशनी की कमी नहीं होने देंगे.

7. बारिश से निपटने के लिए स्टेडियम में अत्याधुनिक ड्रेनेज सिस्टम का इस्तेमाल हुआ है. मेन ग्राउंड और दर्शकों के बैठने की जगह के बीच 10 फ़ीट चौड़ी जगह छोड़ी गई है. बारिश होने पर सारा पानी मैदान से ड्रेन होकर यहीं जाएगा. बारिश के बावजूद महज आंधे घंटे में ग्राउंड पर फिर से खेल शुरू किया जा सकता है.

8. स्टेडियम में एक हजार कार पार्किंग और लगभग पांच हजार टू-वीलर पार्किंग की व्यवस्था है.

9. चार मंजिला स्टेडियम के ग्राउंड फ्लोर में मेडिकल रूम और अंपायर रूम है. पहली फ्लोर पर ड्रेसिंग रूम, दूसरी फ्लोर पर प्लैटिनम लाउंज और ओनर्स लाउंज, तीसरी मंजिल पर कारपारेट बाक्स और चौथे में साउथ प्रेसिडेंशियल गैलरी है.

10. पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने 2014 में स्टेडियम बनाने को लेकर मंजूरी दी थी. प्राइवेट कंपनी इकाना ने इस स्टेडियम का निर्माण किया है. इस स्टेडियम को बनने में  2 साल 8 महीने में का समय लगा है.

About the author

Taasir Newspaper