राजनीति

सरकार बनी तो गाय लोन पर ब्याज माफी, दूधियों को मिलेगा पैसा: ई-चौपाल में बोले अखिलेश

akhilesh_
Written by Taasir Newspaper

Taasir Urdu News Network | Uploaded on 11-January-2019

‘मिशन 2019’ के लिए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने तैयारी शुरू कर दी है. अखिलेश ने पत्नी डिंपल यादव के संसदीय क्षेत्र कन्नौज में आज ई-चौपाल लगाई. इस दौरान उन्होंने लोगों के सवालों के जवाब दिए. बीजेपी से डर के कारण सपा-बसपा के गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि हम जनता को यह नहीं समझा पाए कि बीजेपी ने कितने गठबंधन किए हैं. आज कई पार्टियां उनका साथ छोड़ चुकी हैं. हम अपना गणित सही करने की कोशिश कर रहे हैं. और इसका नतीजा गोरखपुर उपचुनाव में भी दिखा. हम किसी के खिलाफ नहीं है. बीजेपी ने जो गिनती ठीक कराना सिखाया हम उसी रास्ते पर चल रहे हैं. बीजेपी ने सिर्फ नाम बदलने का काम किया और उनका धोखा बोलता है.

अखिलेश ने इस दौरान कहा कि अगर हमारी सरकार आई तो हम गाय लोन पर ब्याज माफ करेंगे. व्यापारियों के पक्ष में बोलते हुए अखिलेश ने कहा कि हम दूध व्यापारियों को ऑन स्पॉट पैसे देंगे. बीजेपी पर निशाना साधते हुए सपा अध्यक्ष ने कहा कि अब स्कूल में गरीब बच्चों के लिए दूध बंद हो गया है.

वहीं दूसरे देशों से कैसे रिश्ते रखे जाएं, इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हर देश से संबंध अच्छे रखने पड़ेंगे. कुछ पार्टियां नफरत फैलाने की कोशिश कर रही हैं. हमारा हमेशा मानना रहा है कि जितने भी देश हैं उनसे संबंध अच्छे हों.

चुनाव से पहले क्या आप रथ यात्रा करेंगे, इसका जवाब देते हुए अखिलेश ने कहा कि लोकसभा चुनाव में कम समय बचा है. ऐसे में रथ यात्रा के लिए समय नहीं है. हमने ई-चौपाल कराने की योजना बनाई, क्योंकि इससे भी ज्यादा से ज्यादा लोगों से जुड़ा जा सकता है और यह भी नई तरह की रथ यात्रा है.

बता दें कि इस बार के आम चुनाव में और उससे पहले प्रचार प्रसार के लिए सोशल मीडिया का सभी राजनीतिक पार्टियां जमकर इस्तेमाल कर रही हैं और अपने मतदाताओं से जुड़ने के लिए उन्हें इससे बेहतर मौका भी मिल रहा है. सपा की तरह ही बीजेपी, कांग्रेस और दूसरी राजनीतिक पार्टियां डिजिटल प्लेटफार्म का इस्तेमाल करने के लिए बड़ी-बड़ी एजेंसियां तक हायर कर चुकी हैं.

राजनीतिक पार्टियों की तैयारी को देख कर के लगता है कि आगामी लोकसभा चुनाव में सोशल मीडिया डिजिटल प्लेटफॉर्म का जमकर इस्तेमाल किया जाएगा.

About the author

Taasir Newspaper