राजनीति

आजम खान का ‘खाकी अंडरवियर’ बयान: जयाप्रदा की मायावती से अपील- मेरी मदद कीजिए, सपा से वापस लें समर्थन

Untitled-22 copy
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 15-April-2019

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के उम्मीदवार आजम खान (Azam Khan) के आपत्तिजनक बयान ‘खाकी अंडरवियर’ पर भाजपा (BJP) उम्मीदवार जयाप्रदा ने बसपा (BSP) प्रमुख मायावती से मदद की अपील की है. जयाप्रदा ने कहा कि मैं मायावती (Mayawati) से अपील करती हूं कि मेरी मदद कीजिए और मेरे लिए आवाज उठाएं. साथ ही जयाप्रदा (Jaya Prada) ने कहा कि मैं मायावती से अपील करती हूं कि समाजवादी पार्टी से समर्थन वापस लें. बता दें, आजम खान ने रविवार को जनसभा के दौरान कहा था, ‘जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया… उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है.’ हालांकि, उन्होंने इस बयान में जयाप्रदा का नाम नहीं लिया था. लेकिन उनका इशारा जयाप्रदा की तरफ ही समझा रहा है.

आजम खान के इस बयान पर जयाप्रदा ने सोमवार को कहा, ‘ये मेरे लिए कोई नई बात नहीं है, साल 2009 से ये झेल रही हूं. मैं काफी हिल गई हूं. अखिलेश बगल में बैठे हुए थे उन्होंने कुछ नहीं बोला. पहले मेरी अश्लील तस्वीरें बंटवाई थीं. मुझे डराने के लिए ये सब कर रहे हैं. मैं डरी नहीं हूं मैं रामपुर नहीं छोड़ने वाली हूं. पहले में डरती थी पर अब नहीं. अखिलेश आजम खान को पार्टी से निकालें. रामपुर की जनता मेरे साथ खड़ी है. पहले भी मुझे पार्टी से निकाला गया आजम खान को नहीं.’

साथ ही न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए जयाप्रदा ने कहा, ‘आपको याद होगा, जब 2009 में मैं उनकी पार्टी से प्रत्याशी थी, तब भी उनकी मेरे खिलाफ की गई टिप्पणी पर किसी ने मेरा साथ नहीं दिया था… मैं महिला हूं, और जो कुछ उन्होंने कहा, वह दोहरा भी नहीं सकती… मुझे नहीं पता, मैंने उनके साथ किया किया, जो वह ऐसी बातें कर रहे हैं…”

साथ ही कहा, ‘उन्हें चुनाव नहीं लड़ने देना चाहिए… क्योंकि अगर यह शख्स चुनाव जीत जाते हैं, तो लोकतंत्र का क्या होगा…? समाज में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं रहेगी… हम कहां जाएंगे…? क्या मुझे मर जाना चाहिए, तब आपको तसल्ली हो जाएगी…? आपको लगता है, मैं डर जाऊंगी, और रामपुर छोड़कर चली जाऊंगी…? लेकिन मैं नहीं जाऊंगी…’

सुषमा की मुलायम पर निशाना
केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने आजम खान की वाहियात टिप्पणी की आलोचना की है. इतना ही नहीं, सुषमा स्वराज ने आजम खान के इस बयान के लिए मुलायम सिंह यादव पर हमला बोला है और उन्हें भीष्म की तरह मौन साधने की गलती न करने की सलाह दी है. सुषमा स्वराज ने अपने ट्विटर हैंडल पर मुलायम सिंह यादव का नाम लेकर लिखा- ‘मुलायम भाई, आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के. आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा है. आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिये.’ सुषमा स्वराज ने अपने ट्वीट में अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव और जया बच्चन के नाम का भी उल्लेख किया है और इस मसले पर ध्यान आकर्षित कराने की कोशिश की है.

आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर आजम खान (Azam Khan) के खिलाफ FIR भी दर्ज हो गई है. इसके साथ ही आजम खान ने इस टिप्पणी को लेकर सफाई दी. आजम खान ने सोमवार को स्पष्ट किया कि उन्होंने फिल्म अभिनेत्री और बीजेपी उम्मीदवार जयाप्रदा के खिलाफ किसी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की है. आजम खान ने कहा कि मैंने किसी का नाम नहीं लिया है. मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए. अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं, किसी का नाम लिया है, किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा.

आजम खान ने कहा कि ‘मैं दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था जो अस्वस्थ है. जिसने कहा था- मैं 150 राइफलें लेकर आया था और अगर मैंने उस दिन आजम खान को देखा होता तो गोली मार देता.’ उसके बारे में बात करते हुए, मैंने कहा, ‘लोगों को जानने में काफी समय लगा और बाद में पता चला कि उसने आरएसएस के शॉर्ट्स पहने थे.’

इस मामले पर महिला आयोग ने भी सख्ती दिखाई है. महिला आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए आजम खान को नोटिस जारी किया है. वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, “वह हमेशा महिलाओं के बारे में गंदी बातें करते हैं, और इस चुनाव में महिला राजनेताओं के खिलाफ यह उनकी दूसरी टिप्पणी है… राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वतः संज्ञान लिया है, और उन्हें नोटिस भेज रहे हैं… हम चुनाव आयोग से भी कड़ी कार्रवाई करने के लिए कह रहे हैं, क्योंकि उनके सबक सीखने का वक्त आ गया है… अब उन्हें इसे रोकना ही होगा… महिलाएं सेक्स ऑब्जेक्ट नहीं हैं… मुझे लगता है, महिला मतदाताओं को भी महिलाओं के साथ ऐसा बर्ताव करने वाले ऐसे लोगों के खिलाफ मतदान करना चाहिए…”

कांग्रेस ने आजम खान की आपत्तिजनक टिप्पणी की निंदा करते हुए सोमवार को कहा इस पर चुनाव आयोग और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को आजम के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर कहा, ‘जया प्रदा पर आजम खान की टिप्पणी का स्तर भद्दा और तुच्छ है. ऐसे बयान एक जीवंत लोकतंत्र के लिए अपमानजनक है. आशा करता हूं कि चुनाव आयोग और अखिलेश यादव इसका संज्ञान लेंगे तथा कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे.’

साथ ही सिंघवी ने कहा, ‘निश्चित तौर पर आज़म खान का बयान निंदनीय है. राजनीति में उन लोगों के लिए कोई जगह नहीं है जो विरोधियों की आलोचना करते हुए मर्यादित विमर्श बरकरार नहीं रख सकते हैं.’

About the author

Taasir Newspaper