विज्ञान-टेक्नॉलॉजी

दूसरी जनरेशन होंडा अमेज़ की 11 महीने में बिकी 85,000 यूनिट, नया टॉप मॉडल भी लॉन्च

Untitled-32 copy
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 24-April-2019

दूसरी जनरेशन होंडा अमेज़ भारत में लगातार काफी पसंद की जा रही है और जापान की ऑटोमेकर कंपनी ने महज़ 11 महीने में नई अमेज़ की 85,000 यूनिट बेच ली हैं. इस बिक्री के साथ दूसरी जनरेशन अमेज़ होंडा की सबसे तेज़ी से बिकने वाली कार बन गई है. होंडा इंडिया ने नई जनरेशन अमेज़ को मई 2018 में लॉन्च किया था और लॉन्च के महज़ 11 महीने में ही इस कार ने बिक्री का यह आंकड़ा पार कर लिया है. कंपनी हर महीने औसतन नई अमेज़ की 7,800 यूनिट बेचती है और यह कार होंडा डब्ल्यूआर-वी और सिटी के साथ होंडा की सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार बनी हुई है. बता दें कि कंपनी ने होंडा अमेज़ का नया रेन्ज टॉप मॉडल VX CVT देश में लॉन्च कर दिया है जिसकी दिल्ली में शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 8.56 लाख रुपए रखी गई है.

भारत में दूसरी जनरेशन होंडा अमेज़ का मुकाबला फोक्सवेगन अमिओ, फोर्ड एस्पायर, ह्यूंदैई ऐक्सेंट, टाटा टिगोर और खासतौर पर मारुति सुज़ुकी डिज़ायर से होने वाला है. इसमें नई ग्रिल के साथ नई डिज़ाइन के हैडलैंप क्लस्टर और एलईडी पोजिशन लाइट दी गई है. कार में आकर्षक बंपर लगाने के साथ ही इस कार के एयरोडायनामिक्स को सुधारने के लिए रूफ-लाइनन को नीचे की ओर झुकाया गया है. इसके अलावा कार में रियर पार्किंग सेंसर्स, रियर कैमरा और आलॉय व्हील्स का बिल्कुल नया सेट दिया गया है. कार के केबिन को भी बिल्कुल नया रूप दिया गया है जिसमें डिजिपैड 2.0 के साथ एप्पल कार प्ले और एंड्रॉइड ऑटो जैसे फीचर्स दिए है. कार का स्टीयरिंग व्हील मल्टीफंक्शनल है और इसमें ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल सिस्टम भी दिया गया है.

होंडा इंडिया ने इस कार में पेट्रोल वेरिएंट में 1.2-लीटर का इंजन लगाया है जो 89 bhp पावर जनरेट करने की क्षमता रखता है. कंपनी ने इस कार को बहुत से एडवांस फीचर्स से लैस किया है जिनमें 7-इंच डिजिपैड टचस्क्रीन इंफोटनमेंट सिस्टम शामिल है. इस सिस्टम से कार को स्मार्टफोन से कनेक्ट किया जा सकता है, इसके साथ ही कार में नेविगेशन फीचर भी मुहैया कराया गया है. होंडा की दी गई इस स्टाइल से कार का लुक बहुत बेहतर हो गया है और कहा जा सकता है कि यह भारतीय ऑटोमोबाइल बाज़ार की मिनी-सिटी बनने वाली है. होंडा इंजीनियरिंग ने इस कार के इंजन पर भी काफी काम किया है जिससे इसे और भी ज़्यादा फ्यूल एफिशिएंट बनाया जा सके.

About the author

Taasir Newspaper