विदेश

उइगर मुस्लिमों को हिरासत में लेने पर चीन की सफाई, कहा – कट्टरपंथ से मुक्त करना मकसद

arest0101
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 12-July-2019

बीजिंग: चीन में उइगर मुस्लिमों के बड़े पैमाने पर हिरासत में लिए जाने की आलोचना करते हुए 22 देशों द्वारा संयुक्त राष्ट्र को पत्र लिखे जाने का चीन ने विरोध किया है.

अफगानिस्तान और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की सीमा से लगे चीन के शिनजियांग प्रांत में अलगाववादी पूर्वी तुर्किस्तान इस्लामिक आंदोलन (ईटीआईएम) के हिंसक हमलों से निपटने के लिए उइगर मुस्लिमों को हिरासत शिविरों में रखा गया है.

इसको लेकर पश्चिमी देश लगातार चीन की आलोचना कर रहे हैं.

जापान और ब्रिटेन समेत 20 से ज्यादा देशों ने चीन में उइगर और अन्य अल्पसंख्यकों को हिरासत में लिए जाने की आलोचना करते हुए संयुक्त बयान जारी किया है.

हालांकि चीन ने इन शिविरों का यह कहते हुए बचाव किया है कि यह पुनर्शिक्षित किए जाने वाले शिविर हैं जिसका मकसद उइगर मुस्लिमों के एक धड़े को कट्टरपंथ से मुक्त करना है.

About the author

Taasir Newspaper