विदेश

Saudi Arabia में बिना बुर्के के घूम रहीं महिलाओं की तस्वीरें वायरल, हैरान लोगों ने कहा.

saudi women
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 14-September-2019

सऊदी अरब: ट्विटर पर सऊदी अरब (Saudi Arabia) की बिना बुर्के वाली तस्वीरें वायरल हो रही हैं. इस तस्वीरों में महिला बिना अबाया (मुस्लिम महिलाओं द्वारा पहने जाने वाला सिर से पैर पर ढकने वाला फुल-लेंथ कपड़ा) के नज़र आ रही हैं. मशाल-अल-जालुद (Mashael al-Jaloud) नाम की ये महिला 33 साल की है, जो अबाया छोड़ वेस्टर्न कपड़ों व्हाइट ट्राउज़र और ऑरेंड रैप जैकेट में मॉल के बाहर घूमती नज़र आई. मॉल के बाहर मौजूद भीड़ उनको घूरती दिखी, लेकिन जालुद बिंदास अंदाज़ में वहां से गुज़रीं.

सिर्फ मशाल-अल-जालुद ही नहीं बल्कि 25 साल की सामाजिक कार्यकर्ता मनाहेल-अल ओतैबी (Manahel al-Otaibi) भी अबाया (बुर्का) थोड़ वेस्टर्न कपड़ों व्हाइट टी-शर्ट और डेनिम डंग्री में सड़कों पर घूमती दिखीं.

अभी तक सउदी अरब या खासकर इस्लामिक देश में महिलाएं काले रंग का पारंपरिक अबाया या बुर्का पहननी हैं. वहां, इस लिबाज को महिलाओं की पवित्रता के रूप में देखा जाता है. लेकिन अब सऊदी प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (Saudi Prince Mohammad Bin Salman Al Saud) के एक इंटरव्यू के बाद ये बदलाव नज़र आ रहा है.

दरअसल, साल 2018 में शहजादा मोहम्मद बिन सलमान ने ‘सीबीएस’ को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि ड्रेस कोड में छूट दी जा सकती है. उनका कहना था कि यह पोशाक इस्लाम में अनिवार्य नहीं है, लेकिन इसके बाद भी कोई औपचारिक नियम नहीं बनने के कारण यह चलन बरकरार है.

ऐसा पहली बार नहीं है जब सऊदी अरब की महिलाओं ने बुर्के के खिलाफ अपनी आवाज उठाई है. इससे पहले सोशल मीडिया पर सऊदी अरब की महिलाओं ने इस तरह के प्रतिबंध के खिलाफ अबाया के बिना अपनी तस्वीरें डाली हैं.

लेकिन बिना अबाया के इस तरह सऊदी अरब की महिलाओं का पब्लिक में घूमने का मामला पहली बार आया है.

ये तस्वीरें देख लोगों का अलग-अलग रिएक्शन आया है, कोई इनकी सुरक्षा की दुआ कर रहा है तो कोई इनकी हिम्मत को दात दे रहा है.

 

About the author

Taasir Newspaper