खेल

WIW vs INDW 3RD ODI: भारतीय टीम की जीत की चमक में ‘दबकर’ रह गई स्मृति मंधाना की बड़ी उपलब्धि..

Untitled-8 copy
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 07-Nov-2019 

एंटीगा:स्टार ओपनर स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) वनडे में सबसे तेज 2,000 रन बनाने वाली दूसरी भारतीय बल्लेबाज बन गई हैं. बाएं हाथ की इस बल्लेबाज ने वेस्टइंडीज के खिलाफ यहां सर विवियन रिचर्ड्स स्टेडियम में तीसरे और आखिरी वनडे मैच (West Indies Women vs India Women) में यह उपलब्धि हासिल की. मंधाना ने मैच में 74 रनों की पारी खेली और युवा बल्लेबाज जेमिमाह रॉड्रिगेज (Jemimah Rodrigues) के साथ पहले विकेट के लिए 141 रनों की साझेदारी की. स्मृति ने अपनी 74 रनों की पारी के दौरान 63 गेंदों का सामना किया और 9 चौके व तीन छक्के लगाए. स्मृति और जेमिमा की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत भारतीय महिला टीम ने मैच 6 विकेट से जीत लिया. मैच में भारतीय महिला टीम की जीत की चमक में स्मृति की बड़ी उपलब्धि ‘दबकर’ रह गई.

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए वेस्टइंडीज की टीम 194 रन बनाकर आउट हो गई. अनीसा मोहम्मद के रूप में टीम का आखिरी विकेट 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर गिरा. इंडीज टीम के लिए स्टीफानी टेलर ने सर्वाधिक 79 रन  (112 गेंद, पांच चौके और दो छक्के) बनाए जबकि स्टेसी एन किंग ने 38 रन की पारी खेली. भारत के लिए झूलन गोस्वामी और पूनम यादव ने दो-दो विकेट हासिल किए. जवाब में खेलते हुए भारतीय महिला टीम ने जेमिमा (69) और स्मृति (74) की पारियों की बदौलत लक्ष्य चार विकेट खोकर हासिल कर लिया. हरमनप्रीत कौर (0) और दीप्ति शर्मा (4) नाबाद रहकर पवेलियन लौटीं.

23 वर्षीय मंधाना (Smriti Mandhana)ने 2,000 रन बनाने के लिए 51 पारियां लीं. इसी के साथ वह विश्व में सबसे तेज दो हजार रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में तीसरे नंबर पर आ गई हैं. उनसे ऊपर ऑस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क और मेग लेनिंग हैं. ये दोनों ही 45-45 मैचों में 2000 रन के आंकड़े तक पहुंची थीं. वनडे में मंधाना ने अब तक 51 वनडे मुकाबलों में 43.08 की औसत से 2,025 रन बनाए हैं। इसमें चार शतक और 17 अर्धशतक शामिल हैं. मंधाना के अलावा शिखर धवन ही केवल ऐसे भारतीय हैं जिनके नाम 50 ओवर में सबसे तेज दो हजार रन बनाने का रिकॉर्ड है. उन्होंने 48 पारियों में यह कीर्तिमान स्थापित किया था. पुरुष क्रिकेट के लिहाज से बात करें तो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली 53 मैचों में 2000 वनडे रन के आंकड़े तक पहुंचे थे. उन्होंने 2000 रन तक पहुंचने के लिए स्मृति मंधाना से दो पारियां अधिक खेली थीं. सौरव गांगुली और नवजोत सिंह सिद्धू 52-52 मैचों में दो हजार रन के स्कोर तक पहुंचे थे.

About the author

Taasir Newspaper