बिहार राज्य

मानव श्रृंखला में महिलाओं व बच्चों सहित सभी की सुरक्षा पर दें विशेष ध्यान: पुलिस अधीक्षक।

betiya police news
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 15-Jan-2020 

बेतिया: पश्चिम चंपारण के जिलाधिकारी, डाॅ0 निलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि जल-जीवन-हरियाली, नशामुक्ति तथा बाल विवाह-दहेज प्रथा उन्मूलन के समर्थन में 19 जनवरी को विशाल मानव श्रृंखला का निर्माण किया जा रहा है। जिले के प्रत्येक व्यक्तियों को सरकार की महत्वपूर्ण जल-जीवन-हरियाली अभियान से होने वाले फायदों के बारे में बताया जाय ताकि वे इस अभियान से भलीभांति अवगत हो सकें। उन्होंने कहा कि माइक्रोप्लान के तहत जिला से लेकर प्रखंड, पंचायत स्तर पर लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करने का काम युद्धस्तर पर किया जाय। वे समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित मानव श्रृंखला की सफलता हेतु की जा रही तैयारियों की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत कुंओं, तालाबों, पइनों, आहरों को अतिक्रमणमुक्त कर उनका जीर्णोद्धार कराया जा रहा है। अन्य अतिक्रमित जल स्रोतों को चिन्हित कर उन्हें अतिक्रमणमुक्त करने की कार्रवाई की जा रही है। इसके लिए सैकड़ों लोगों को नोटिस भी किया जा चुका है। सार्वजनिक कुंओं, चापाकलों, नलकूपों के किनारे सोख्ता का निर्माण कराया जा रहा है। इसके साथ ही अन्य जल संचयन संरचना का निर्माण भी किया जा रहा है।

जिलाधिकारी ने कहा कि छोटी-छोटी नदियों, नालों एवं पहाड़ी क्षेत्रों के जल संग्रहण क्षेत्रों में चेकडैम एवं जल संचयन के अन्य संरचनाओं के निर्माण की प्रक्रिया जारी है। भवनों में छत-वर्षा जल संचयन की संरचना का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने परंपरागत खेती के अलावा वैकल्पिक फसलों, ड्रिप एरिगेशन, जैविक खेती एवं अन्य नई तकनीकों के प्रयोग के बारे में भी लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करने को कहा है।

उन्होंने सौर उर्जा के उपयोग को प्रोत्साहन देने एवं उर्जा की बचत की बात भी कही। इसके साथ ही पौधशाला सृजन एवं सघन वृक्षारोपण का कार्य निरंतर जारी रखने का निदेश दिया है।

उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निदेश दिया कि मानव श्रृंखला के दिन यातायात व्यवस्था को इस हद तक काबू किया जाय ताकि मानव श्रृृंखला निर्माण में अड़चन नहीं आये। उन्होंने मानव श्रृंखला के निर्माण हेतु लोगों से प्रेमपूर्वक व्यवहार करने का भी निदेश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि 19 जनवरी को बनायी जाने वाली मानव श्रृंखला में सुरक्षा व्यवस्था पर कड़ी नजर रखी जाय ताकि मानव श्रृंखला में भाग लेने वाले लोगों को परेशानियों को सामना नहीं करना पड़े।

उन्होंने कहा कि जल-जीवन-हरियाली एवं पर्यटन को बढ़ावा देने के उदेश्य से 14 जनवरी को बेतिया से लौरिया तक साइकिल रैली का सफल आयोजन किया गया। साइकिल रैली में पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों की सराहनीय भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार की सराहनीय भूमिका मानव श्रृंखला में भी अपेक्षित है। सिविल सर्जन को निदेश दिया गया कि मानव श्रृंखला हेतु बनाये गये मुख्य मार्गों एवं सहायक मार्गों पर पर्याप्त संख्या में आवश्यक दवाईयों, एएनएम तथा डाॅक्टरों की प्रतिनियुक्ति की जाय।

पुलिस अधीक्षक, बेतिया, श्रीमती निताशा गुड़िया ने पुलिस अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं व बच्चों सहित सभी लोगों की सुरक्षा हेतु सभी थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में पूरी चैकसी बरतेंगे। उन्होंने इस कार्य में सेक्टर वाइज चैकीदारों की प्रतिनियुक्ति करने का निदेश दिया है। उन्होंने कहा कि बड़े वाहनों को 10 बजे पूर्वाह्न के पूर्व स्थलों का चयन कर एक जगह एकत्रित रखा जाय ताकि मानव श्रृंखला का सफल आयोजन किया जा सके। उन्होंने पुलिस पदाधिकारियों को ज्यादा भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक स्थलों पर बैरियर लगाकर यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ एवं सुचारू रखने का निदेश दिया

इस अवसर पर जिलाधिकारी, डाॅ0 निलेश रामचंद्र देवरे, पुलिस अधीक्षक, बेतिया, श्रीमती निताशा गुड़िया, पुलिस अधीक्षक, बगहा, श्री राजीव रंजन, अपर समाहर्ता, श्री नंदकिशोर साह, अपर समाहर्ता (विभागीय जांच) हरिनारायण पासवान, उप विकास आयुक्त, श्री रविन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, निदेशक, डीआरडीए, श्री राजेश कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी, श्री अरूण कुमार, सभी जिलास्तरीय पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी अंचल अधिकारी, सभी थानाध्यक्ष आदि उपस्थित रहे।

About the author

Taasir Newspaper