देश विदेश

वर्षो से बन्द पड़े चीनी मिल को चालू करने की उठी मांग

Taasir Newspaper
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Uploaded on 05-June-2020 

आज दिनांक 6/5/2020 को जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सह जन छात्र परिषद के प्रभारी श्री राजेश रंजन पप्पू ने प्रेस रिलीज जारी कर छात्रों को एवं प्रवासी मजदूर के पीड़ा के लिए सरकार को निर्दई बताया है। उन्होंने कहा है कि वर्तमान समय में कोरंटिन में रहने वाले प्रवासी मजदूरों को सुविधा नही होने से कई लोग कोरंटिन सेंटर में ही मौत हो जा रही है। सरकार संवेदनहीन बनी हुई है ऊपर से बड़े-बड़े वादे करने वाली सरकार जमीनी स्तर पर पूरी तरह से योजनाओं को क्रियान्वयन में असफल रही है।कोरंटिन सेंटर भ्रष्टाचार का अड्डा बन चुका है। एक तरफ छात्र अपनी रूम रेंट को लेकर सरकार से आस लगाए बैठे हैं दूसरी तरफ बिजली का बिल उन दुकानों को भी जा रहा है जो लोग डाउन के दिन से बंद है सरकारी बाबू द्वारा हर छोटे-बड़े उद्योग एवं दुकानदारों को एवरेज बिजली बिल भेज कर मानसिक तनाव में धकेल दिया है। तीसरी तरफ बिहार से बाहर से आए हुए प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार के अवसर नहीं होने से मजदूर वर्ग भी काफी चिंतित हैं जांच के अभाव में कोरोना संक्रमण गांव-गांव तक अपने पांव पसार चुका है सरकारी मंत्री अभी कोरेंटिन है श्री पप्पू ने कहा कि राज्य में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए बंद पड़े सभी चीनी मिल उद्योगों को खोलने की जल्द से जल्द पहल करें जिससे दिहाड़ी पर काम करने वाले मजदूर अपनी जीवनशैली को पटरी पर ला सकें।

About the author

Taasir Newspaper

Taasir Newspaper