बिहार राज्य

तटबंध के पास डूबने से इंटर की छात्रा की मौत

Taasir Newspaper
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Siwan (Bihar) on 07-August-2020

सिवान। थाना क्षेत्र के कौड़सर गांव स्थित सरयू नदी के गोगरा तटबंध के पास बाढ़ के पानी में नहाने के दौरान डूबने से इंटर की छात्रा की मौत हो गई। मौत के बाद स्वजनों में कोहराम मच गया। मृतका हरेराम साह की पुत्री पुतुल कुमारी बताई जाती है। वह कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय सह इंटर कॉलेज पंजवार की 12 की छात्रा थी। बताया जाता है कि शुक्रवार को गांव की कुछ महिलाएं बहुला तथा गणेश चौथ को ले गोगरा तटबंध के पास स्नान करने गईं थी। इस दौरान गांव की दो युवती तथा एक महिला पानी में डूबने लगीं। उन तीनों को डूबते देख पुतुल ने तैर कर अन्य की मदद से तीनों को बचा लिया, लेकिन इस दौरान उसका पैर पानी में एक कपड़े में फंस गया और वह पानी में डूब गई। महिलाओं द्वारा शोर मचाए जाने के बाद काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए। गांव के बिनटोला के दो गोताखोरों के काफी मशक्कत के बाद उसके शव को निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई थी। मौत की सूचना के स्वजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया। घटना की जानकारी मिलते ही सीओ अशोक कुमार, सीआइ महावीर मांझी, सअनि विनोद कुमार घटनास्थल पर पहुंच घटना का जायजा लिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई में जुट गई।

सीओ ने बताया कि मृतका के स्वजन को आपदा राहत कोष से चार लाख को चेक व पारिवारिक लाभ के तहत 20 हजार रुपये दी जाएगी। वहीं मुखिया देवेंद्र साह ने कबीर अंत्येष्टि के तहत तीन हजार रुपये प्रदान किया। बता दें कि पुतुल को चार बहन व दो भाई हैं। वह बहनों में सबसे छोटी थी। उसके पिता चेन्नई में एक कंपनी में काम करते हैं। वे गुरुवार को चेन्नई के लिए चले गए हैं। खुद की परवाह किए बिना बचाई तीन की जान : कौड़सर गांव के गोगरा तटबंध के पास बहुला गणेश चौथ पर्व को लेकर स्थान करने के दौरान गांव के ही गणेश सिंह की पत्नी रम्भा देवी व पुत्री मधु कुमारी व किशुनदेव शर्मा की पुत्री प्रीति कुमार स्नान के दौरान गहरे पानी के तरफ चली गईं और डूबने लगी। पास में पुतुल कुमारी भी स्नान कर रही थी। उन्हें डूबता देख पुतुल ने बिना अपनी जान की परवाह किए बिना उन्हें बचाया लेकिन स्वयं काल के गाल में समा गई। गोताखोर की हालत चिताजनक अस्पताल में भर्ती : गोगरा तटबंध के पास पुतुल कुमारी के डूबने के बाद उसके शव को बिनटोला गांव के दो गोताखोर राजनाथ बिन व वीरेंद्र बिन ने नदी में तलाश कर बाहर निकाला। इस दौरान राजनाथ बिन की हालत नाजुक बन गई। उसके मुंह से खून निकलने लगा, तबीयत खराब होते देख मुखिया देवेंद्र चौहान ने उसे रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत चिताजनक बनी हुई थी।

About the author

Taasir Newspaper

Taasir Newspaper