बिहार राज्य

बाढ़ से बिठुना पंचायत के 250 परिवार प्रभावित

Taasir Newspaper
Written by Taasir Newspaper

Taasir Hindi News Network | Siwan (Bihar) on 07-August-2020

सिवान। प्रखंड के बिठुना पंचायत के जुनेदपुर, बिठुना, सिघौली गांवों के वार्ड 4, 5, 8 व 11 के करीब 250 परिवार बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं। इन वार्डों के पीड़ित घर छोड़ ऊंचे व सुरक्षित स्थानों पर शरण लिए हुए हैं, लेकिन इनलोगों के रहने व खाने की समुचित व्यवस्था नहीं होने से इन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे अधिक समस्या शौच, पेयजल, छोटे-छोटे बच्चों के लिए दूध, दवा की उत्पन्न हो गई है। मुखिया राजीव कुमार ने बताया कि बाढ़ के पानी के कारण आने-जाने के रास्ते बंद हो गए हैं। पीड़ितों के लिए भोजन, बच्चों के लिए दूध की जरूरत है, लेकिन प्रशासन द्वारा राहत के नाम पर अबतक मात्र दो नाव की व्यवस्था की ही गई है। करीब 250 पीड़ितों की सूची सीओ को सौंप कर उनके लिए तिरपाल व राहत सामग्री मुहैया कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सभी किसानों की फसलें बाढ़ की भेंट चढ़ गईं हैं। बाढ़ पीड़ितों ने कहा कि अब माता बिठुन देवी ही सहारा हैं। उन्होंने पंचायत को बाढ़ग्रस्त क्षेत्र घोषित करने व पीड़ितों के लिए तत्काल राहत सामग्री उपलब्ध कराने की मांग की है। नदियों के बढ़ते जलस्तर से बाढ़ की विभीषिका बढ़ती ही जा रही है।

बड़कागांव पंचायत को डूबोने के बाद बाढ़ का पानी बिठुना पंचायत के इन गांवों से होते हुए सहसरांव, गोपालपुर, महम्मदपुर पंचायत से होकर सारण जिले के सिसईं होते हुए निकल जाता है। पानी की तेज धार से भगवानपुर से मोरा जाने वाली को तोड़ डाला है और अब बगल के सड़क भगवानपुर से जलपुरवा होकर जाने वाली सड़क पर तेज गति से बह रहा कभी भी सड़क को तोड़ सकता है। पानी बहाव के कारण प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र का मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। सहसरांव में सड़क के टूट जाने के कारण लोग नाव के सहारे आ-जा रहे हैं। सीओ युगेश दास ने कहा कि बाढ़ प्रभावितों के बीच सामुदायिक किचन की व्यवस्था तीन जगह की गई है। उन्होंने कहा कि एक सर्वे टीम गठित कर प्रभावित पंचायतों के प्रभावित परिवार की सूची तैयार कराई जा रही है। प्रभावित परिवार के बैंक खाते में छह हजार रुपये दी जाएगी।

About the author

Taasir Newspaper

Taasir Newspaper