बिहार राज्य

मोटरसाइकिल सड़क दुर्घटना में लखमीनिया के दो युवक की हुई दर्दनाक मौत। गांव में मचा कोहराम ।

Taasir Newspaper
Written by Taasir Newspaper

Taasir Urdu News Network / Mosherraf

बलिया( बेगूसराय)
 बेगूसराय बलिया के बीच बलिया थाना सीमा क्षेत्र से सटे लाखो थाना क्षेत्र के सीमा पर मंगलवार की सुबह  सड़क दुर्घटना में गांव के रिश्ते में चाचा भतीजे  दो युवक की दर्दनाक मौत घटनास्थल पर हो गई है। घटना  इनियार के समीप  फोरलेन पर चल रहे निर्माण कार्य के  संवेदक के द्वारा बलिया से बेगूसराय जाने वाले सड़क मार्ग पर बिना डायवर्शन बनाए हुए गलत तरीके से मिट्टी का ढेर रख देने के कारण सड़क दुर्घटना बताया जाता है। अपाची मोटरसाइकिल पर सवार दोनों युवक की मौत घटनास्थल पर ही हो गई । घटना की सूचना मिलते ही सुबह लगभग 5:00 के करीब लाखो थाना की पुलिस अधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह पुलिस बल के साथ गस्ती के क्रम में सीमावर्ती क्षेत्र पर पहुंचने के बाद सड़क पर दोनों युवक के शव को पड़ा देखकर आनन-फानन में उठाकर सदर अस्पताल लाया गया । जहां उसके मोबाइल फोन से घर पर फोन करने के बाद उसकी पहचान बलिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत नगर परिषद क्षेत्र के लखमीनिया स्थित वार्ड नंबर 24 बभवन टोली का निवासी बताया जाता है। जिसकी पहचान स्वर्गीय राम रामाश्रय सिंह 40 वर्षीय पुत्र बृजेश सिंह  एवं रामनंदन सिंह का 35 वर्षीय पुत्र प्रियेश सिंह के रूप में की गई है । मृतक के परिजनों को सूचना मिलते ही  मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया है। और सैकड़ों की संख्या में स्थानीय ग्रामीण को सूचना मिलते ही सदर अस्पताल पहुंच गए। प्रियाश सिंह को तीन पुत्री एवं एक पुत्र है। जबकि  बृजेश सिंह को दो पुत्र एवं एक पुत्री है। बताया जाता है कि बृजेश सिंह की 10 वर्षीय पुत्री बेगूसराय के एक प्राइवेट  नर्सिंग होम में भर्ती है जिसे देखने के लिए अपने अपाचे मोटरसाइकिल से  पुत्री को देखने के लिए बेगूसराय क्लीनिक पर जा रहा था। इसी क्रम में दोनों की दर्दनाक मौत हो गई है। लाखों थाना के पुलिस पदाधिकारी विरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि मिट्टी के ढेर में गाड़ी के   अनियंत्रित हो जाने के कारण दोनों युवक सड़क किनारे मोटरसाइकिल से फेंका जाने के कारण सर में एव चेहरे में काफी चोट लगने के कारण उसकी मौत हुई है। दोनों मृतक के परिवार में एवं गांव में दर्दनाक सड़क दुर्घटना के बाद कोहराम मच गया है। वहीं स्थानीय लोग एनएचआई के द्वारा निर्माण कार्य में लापरवाही के कारण सड़क दुर्घटना बता रहे हैं। पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी कर लेने के बाद लाखों पुलिस ने शव को परिजनों को सुपुर्द कर दिया  शव के गांव पहुंचते ही देखने वालों का हुजूम उमड़ पड़ा था।
मृतक बृजेश की पत्नी शबनम देवी पुत्र अभिमन्यु कुमार 8 वर्ष शांतनु कुमार 10 वर्ष तथा पुत्री तनु प्रिया कुमारी 12 वर्ष का रो रो कर बुरा हाल है वहीं मृतक प्रियांश  कुमार की पत्नी चमचम देवी पुत्री चांदनी कुमारी 10 वर्ष पुत्र मुरारी कुमार 7 वर्ष पुत्री कीर्ति कुमारी 5 वर्ष एवं पुत्री गोरी कुमारी 3 वर्ष का रो-रो कर एवं परिवार वालों का बुरा हाल है। बताया जाता है कि प्रियांशु कुमार भाई में अकेले था तो वहीं बृजेश कुमार का एक बड़ा भाई भी है।

About the author

Taasir Newspaper

Taasir Newspaper