बिहार राज्य

दीर्घायु एवं निरोग रहने के लिए आयुर्वेद अमृत – श्रम मंत्री

Written by Taasir Newspaper

TAASIR HINDI NEWS NETWORK-NIRAJ KUMAR

बिहार

23 जून 2022,

पटना – भारतीय आयुष चिकित्साक महासंघ एवं प्रेम यूथ फाउंडेशन पटना के संयुक्त तत्वाधान में रोग निवारण में आयुष की भूमिका के विषय पर सेमिनार का आयोजन युवा आवास पटना में किया गया l सेमिनार का उद्घाटन श्रम मंत्री जीवेश मिश्रा एवं एम एल सी डॉ संजय पासवान ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया l अपने संवोधन में डॉ संजय पासवान ने कहा कि भारत की गौरबशाली अतीत रहा है, दुनिया का पहला सर्जरी भारत में गणेश जी का हुआ है जों आज भी उत्तराखंड के चोकोरी के पास पताल भुवनेश्वर के नाम से सुप्रशिद्ध है l सजीवन बूटी और ब्रह्म बूटी आज भी हिमालय के गोद में है जरुरत है इसे संरक्षित करने की और प्रचारित करना होगा l अंग्रेज को तो खडेड़ दिया लेकिन अंग्रेजी दवा के हम लोग गुलाम बने है l यह रोग को ठीक नहीं करता है सिर्फ दवा देता है l हमें अपनी परम्परागत आयुष पदती को अपनाना होगा l श्रम मंत्री जीवेश मिश्रा ने मोबाइल जनित रोगों को लेकर लोगों को आगाह किया कि आने बाले दस सालो में दुनिया में पागलो की संख्या काफी बढ़ जायेगा l मोबाईल का उपयोग कम से कम करें l जीवन शैली में बदलाव लाकर हम स्वस्थ्य जीवन जी सकते है l उन्होंने कहा कि हमें आयुष को घर घर तक पहुंचने को लेकर लगातार प्रयत्न करने की जरुरत है l श्रम बिभाग आयुष को भी कौशल विकास योजना में शामिल करने का योजना बना रहीं है l उन्होने युवाओं से अपील किया कि भौतिक सुख के पीछे न  भागे l योग करें, खेल कूद में भाग लें, नृत्य संगीत करें l योग गुरु ह्रदय नारायण झा ने योग और सिद्धा के बारे में विस्तार से बताया l मौके पर उमाशंकर तिवारी, गांधीवादी प्रेम जी, संजय कुमार झा, रणविजय सिंह, डॉ अनिल कुमार सिंह, रवि प्रकाश, त्रिलोकी मेहता, अमित कुमार, विशाल कुमार, रेहाना खातून, ख़ुशी कुमारी, प्रांजल गुप्ता, शशि कुमार, सुधीर शर्मा समेत पुरे बिहार से आयुष चिकित्स्कों ने शिरकत किया l

About the author

Taasir Newspaper