बिहार राज्य

युथ हल्ला बोल के धरने में शामिल हुए जाप राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव

Taasir Newspaper
Written by Taasir Newspaper

TAASIR HINDI NEWS NETWORK-NIRAJ KUMAR

बिहार

28 जून 2022,

पटना : युथ हल्ला बोल  द्वारा अग्नीपथ स्कीम के खिलाफ गांधी मैदान गांधी मूर्ति के नीचे एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया. धरने को सम्बोधित करते हुए जाप राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि सरकार की ‘अग्निपथ स्कीम’ ने आप जैसे सेना के अभ्यर्थियों को दोराहे पर लाकर खड़ा कर दिया है। भारतीय सेना में जाकर देश सेवा करने का सपना देखने वाले नौजवानों के साथ बहुत बड़ा धोखा हुआ है। हमारा मानना है कि यह स्कीम सिर्फ आप जैसे युवाओं के लिए ही नहीं बल्कि सेना विरोधी भी है। इस तरह की योजना आपके मनोबल को तो तोड़ती ही है, भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा से भी समझौता करती है।इसलिए ‘अग्निपथ’ के खिलाफ आपके आंदोलन को हम देश बचाने के संघर्ष की तरह देखते हैं।  यूथ हल्ला बोल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुपम ने धरना को सम्बोधित करते हुए कहा कि आपको भी अपने इस संघर्ष के ऐतिहासिक महत्व को समझना होगा। संघर्ष और प्रतिरोध के उचित तरीकों पर विचार करना होगा। ऐसा हम नहीं करेंगे तो सरकार के पास डराने धमकाने और दमन करने के कई हथियार हैं।आप जानते ही हैं कि इन्होंने तो हम जैसे शांतिप्रिय लोगों को भी गिरफ्तार करके तिहाड़ जेल में डाल दिया था। असल में आपके आंदोलन को कुचलने के लिए एक डर का माहौल बनाया जा रहा है। लेकिन अगर हम अपने सिद्धांतों और विचारों पर कायम रहेंगे तो कोई भी सरकार हमें डरा नहीं पाएगी। जाप राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि अ गाँधी बुद्ध की कर्मभूमि और आंदोलनों की जन्मस्थली बिहार के युवाओं पर आज बड़ी जिम्मेदारी है। बड़े से बड़े बदलाव के लिए पूरी दुनिया ने गाँधी से आंदोलन करना सीखा और बुद्ध से संयम सीखा है।चाहे कितने भी अत्याचार हो, चाहे कितना भी उकसावा हो, हमारी ताकत यही होनी चाहिए कि हम अंतिम समय तक लड़ने वाले अहिंसक लोग हैं। जिनको भी अहिंसक प्रदर्शन करने के बावजूद केस मुकदमे और जेल में फसाया गया है, वो बिल्कुल चिंता न करें। जन अधिकार पार्टी और’युवा हल्ला बोल’ आंदोलन की लीगल टीम आपके साथ खड़ी अनुपम ने कहा कि गाँधी बुद्ध की कर्मभूमि और आंदोलनों की जन्मस्थली बिहार के युवाओं पर आज बड़ी जिम्मेदारी है। बड़े से बड़े बदलाव के लिए पूरी दुनिया ने गाँधी से आंदोलन करना सीखा और बुद्ध से संयम सीखा है।चाहे कितने भी अत्याचार हो, चाहे कितना भी उकसावा हो, हमारी ताकत यही होनी चाहिए कि हम अंतिम समय तक लड़ने वाले अहिंसक लोग हैं। जिनको भी अहिंसक प्रदर्शन करने के बावजूद केस मुकदमे और जेल में फसाया गया है, वो बिल्कुल चिंता न करें। हम और हमारे ‘युवा हल्ला बोल’ आंदोलन की लीगल टीम आपके साथ खड़ी है. धरने में प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र कुशवाहा, राष्ट्रीय महासचिव रघुपति सिंह,राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू, यूथ हल्ला बोल से प्रशांत कमल,हिमांशु तिवारी, अमित प्रकाश,सौरव पांडेय, सूरज,और एस एन वीरू अधिवक्ता शामिल थे

About the author

Taasir Newspaper

Taasir Newspaper