नीट पेपर लीक मामले की जांच करने हजारीबाग के ओएसिस स्कूल पहुंची सीबीआई

हजारीबाग, 26 जून

नीट पेपर लीक मामले की जांच करने बुधवार को सीबीआई की टीम हजारीबाग के ओएसिस स्कूल पहुंची। सीबीआई की टीम स्कूल में हर पहलू की जांच-पड़ताल कर रही है। नीट पेपर लीक मामले में इस स्कूल का नाम सामने आया है।

पटना के जिस रामकृष्णा नगर स्थित एक निजी स्कूल से बरामद हुआ नीट यूजी 2024 का अधजला जब्त प्रश्न पत्र मिला था उसका सीरियल कोड हजारीबाग (झारखंड) के मंडई रोड स्थित ओएसिस स्कूल परीक्षा केंद्र से लीक हुआ था। बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के सत्यापन में प्रथम दृष्टया इस परीक्षा केंद्र से प्रश्न पत्र की पैकिंग के संदिग्ध पॉलीबैग संबंधित अभ्यर्थी से बरामद मूल प्रश्न पत्र की पैकिंग और संबंधित पैकिंग ट्रंक में इन सभी के साथ छेड़छाड़ होना पाया गया है।

प्रश्न पत्र की सॉल्वड पीडीएफ कॉपी संजीव कुमार उर्फ लूटन मुखिया ने भेजा था

ईओयू की जांच में खुलासा हुआ है कि प्रश्न पत्र की सॉल्वड पीडीएफ कॉपी संजीव कुमार उर्फ लूटन मुखिया के माध्यम से गिरफ्तार अभियुक्त बालदेव कुमार उर्फ चिंटू के मोबाइल पर परीक्षा तिथि पांच मई की सुबह पहुंची थी, जिसके बाद उसे अभ्यर्थियों को रटवाया गया। अधजले प्रश्न के सीरियल कोड से संबंधित जानकारी 20 जुलाई को एनटीए से मिलने के बाद स्पष्ट हुआ कि यह सीरियल कोड हजारीबाग के मंडई रोड के कल्लू चौक स्थित ओएसिस स्कूल का है। इसके बाद ईओयू की टीम ने हजारीबाग जाकर इसका सत्यापन किया।सत्यापन में पैकिंग ट्रंक में प्रथम दृष्टया छेड़छाड़ होना पाया गया है।

हजारीबाग ओएसिस स्कूल के प्रिंसिपल सह एनटीए सिटी कोऑर्डिनेटर डॉ. एहसान उल हक ने पिछले दिनों बताया था कि एनटीए के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए उन्होंने पांच मई को नीट यूजी परीक्षा आयोजित की थी। पेपर लीक मामले की जांच बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) की टीम कर रही है। हजारीबाग पहुंचकर टीम ने जानकारी जुटाई। इसमें उन्होंने पूरा सहयोग किया।

ईओयू की जांच के दौरान कूरियर स्टाफ ने बताया कि प्रश्नपत्रों के बॉक्स तीन मई को ब्लू डार्ट कूरियर सर्विस द्वारा एसबीआई बैंक (हजारीबाग) में पहुंचाए गए थे। प्रश्नपत्रों के बॉक्स रांची से हजारीबाग कार से लाए गए थे और उन बॉक्सों को ई-रिक्शा से बैंक भेजा गया था।

डॉ एहसान उल हक ने कहा था कि पांच मई को हजारीबाग में पांच केंद्रों पर नीट यूजी परीक्षा आयोजित की गई थी। पांच मई को आयोजित नीट प्रश्नपत्र की एक बुकलेट बिहार के पटना में आधी जली हुई मिली थी।इसकी जांच करने ईओयू की टीम 21 जून को हजारीबाग आयी थी। ईओयू जांच टीम के साथ वे नीट पेपर के कस्टोडियन एसबीआई बैंक भी गये थे। पांच मई को सुबह 7:30 बजे के बाद प्रश्नों के बॉक्स मिलने के बाद उन्होंने पूरी जिम्मेदारी के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया।